financial freedom in hindi

financial freedom 8 ideas in hindi | फायनेंसियल फ्रीडम

financial freedom in hindi

हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप लोग दोस्तों आज की पोस्ट हम जानेगें financial freedom के बारें दोस्तों आज के समय में सभी पैसा कमाते लेकीन पैसा बचाना सभी को नही आता और न ही हर कोई अपनी वित्तीय स्थिति से फ्री होकर अपनी जिंदगी जी पाता है हम सभी जानते है जिसकी भी वित्तीय स्थिति मजबूत है उसकी लाइफ सेट वह अपनी जिंदगी में सबसे ज्यादा आराम पा सकते है जैसे की हम जानते है और मानते भी है की पैसा कमाना आसान हो सकता है लेकिन पैसा को बचाना उतना ही मुस्किल है इसलिय आज हमको financial freedom होने को कुछ रूल यानि की नियम के बारें में जानेगें financial freedom in hindi

financial freedom 8 ideas

१. कमाई जरिया बनाना (make income)

सबसे पहले बात आती है पैसा कमाने का तरीका का क्या आप पैसे कैसे कमाते है आपके पैसा कमाने के कितने सोर्से है आपके पास पैसे कमाने के काम से कम 2 माध्यम जरुर होना चाहिए अगर इससे ज्यादा है तब और भी अच्छा है | क्योकि जब 2020 में कोरोना आया था तब बहुत से सोर्स बंद हो गए थे | जिनके पास के वाल एक सोर्स था उन्हें काफी समस्याओ का समाना करना पड़ा था इस लिए हमारे पास पैसे कमाने के ज्यादा से ज्यादा सोर्सेस होने चाहिए और अगर किसी कारन एक बंद हो जाता है मंदी का समाना करना पड़ रहा तब भी दुसरे माध्यम से पैसा आता रहेगा

2.बेकार के खर्चे बंद करे (stop unnecessary expenses)

जब लोग पैसे कमाना शुरू करते है तब लोगो को दिखाने के लिए बेकार के खर्चे करना शुरू कर देते है जिस से हमारी इनकम का कुछ प्रतिसत फ्री और बेकार के खर्चो में चला जाता है | बेकार के खर्चे होने का एक मुख्य करण है इसके पीछे एक मनोविज्ञान है – ” हमें जितनी ख़ुशी दुसरे लोगो पर पैसे खर्च करने पर मिलती है उतनी ख़ुशी हमें खुद पर खर्च करने पर नही मिलती है “ येसा नही है हम बेकार के खर्चे बंद कर सकते है लेकिन फिर भी हम इसमें लिमिट के खर्च कर सकते है ज्यादा नही |

३.अपने खर्चे को नोट करे (note your expenses)

और आपको पाने घर और अन्य सभी तरह के खर्चे को नोट करते रहना है मतलब आपको सभी तरह के खर्चे पता होने चाहिए की हम महीने में कितना पैसा खर्च कर देते है और किन किन चीजो पर खर्च हो रहा है इससे आपको अपने मंथली बजट तैयार हो जायेगा और आप एक अनुमान लगा पायेगें की हम कितने खर्चे में अपने सभी तरह के मनेजमेंट कर सके

४.पैसा बचाओ (save money)

अपने महीने कमाई के कुछ हिस्से को अवश्य बचाना चाहिए येसा इस लिए जब हमारी लिमिटेड कमाई होती है तब हम किसी और चीजो के लिए पैसा नही बचा पाते है अगर हमें कुछ घर , कार , गहने , और शादी करनी है तब हमारे पास सेविंग होना आवश्यक है

५.आपातकालीन धन (emergency fund)

इसका आशय यह की हम हमेशा स्वास्थ्य नही रहते है और नाही हमारे परिवार में हमेशा सभी निरोगी रहगें कभी न कभी कोई न कोई बीमार जरुर होता है इसके लिए हमारे पास emergency fund होना चाहिए जिससे हमारी सेविंग बची रहे और अति आश्यक और फिर emergency fund ख़त्म होने पर उसका उपयोग कर सके emergency fund आपको रखना ही है

६.पैसे को सही जगह पर इन्वेस्ट करे (invest money in the right place)

यह सबसे आवशयक कार्य है अगर आप पैसे को इन्वेस्ट नही करना जानते तब आप अपने पैसो को कभी नही बढ़ा पायेगें इन्वेस्ट का मतलब यह नही है की आपको स्टॉक मार्किट में इन्वेस्ट करना है | आपको अपने पैसों को सही जगह पर इन्वेस्ट करना है जिसमे आपको सही लगता है आप अपने पैसों को येसे जगह पर लगाना है जहाँ रिस्क कम हो प्रॉफिट अच्छा हो आप कोई बिजनेस में भूमि , सोने चांदी ब्याज पर दे सकते है ,

७. ज्यादा उधार न ले (don’t borrow too much)

वित्तीय हालत को मजबूत करने सबसे अच्छा तरीका यही की आप पे किसी का उधार न अगर आप किसी का उधार नही तब आपकी आर्थिक स्तिथि सबसे अच्छी मानी जाती है पैसे उधार लेना का मतलब होता है सेविंग को बर्बाद करना अगर आप किसी का भी उधार तब आपकी सेविंग में कमी आयेगी जितना हो सके उतना हमें उधार से बचना चाहिए

८.फायनेंसियल एजुकेशन की किताबे पढ़े (read financial education books)

read financial education books : ये हमारी कमियों को दूर करती है और फायनेंसियल फंडामेंटल की सोच को विकसित करती है और ये हमें चीजो को समझाने की कोशिश करती है जिससे हम अपने वित्तीय हालत के अनुसार कार्य कर सके और फायनेंसियल के सही तरीके के बारें में हमें जरुर जानना चाहिए जिससे हमें आर्थिक अनुभव मिलसके

financial freedom in hindi :दोस्तों आज कि पोस्ट में बस इतना ही आगे हम अन्य विषय पर बात करेगें तो हमें आप जरुर बता इयेगा की ये पोस्ट कैसी लगी अगर आपको कुछ सुझाव देना है आप हमारे comment बॉक्स में दे सकते है हम आपके आभारी रहेगें

Leave a Reply