HOSTING KYA HAI

Web Hosting Kya Hai (hindi me)

Hosting kya hai

हेल्लो दोस्तों मेरा नाम दानिश है में आज आप के लिए एक नई पोस्ट लाया हूँ तो दोस्तों कैसे हो आप लोग दोस्तों आज हम जानेगें होस्टिंग क्या (hosting kya hai) होती है हो hosting ka use क्या है hosting buy, kaise karte hai मान लीजिए आप कोई बिजनेस करते हैं और आपको अपना बिजनेस का जो भी सामान है या माल है उसे रखने के लिए एक दुकान या स्‍टोर की आवश्यकता होती है इसी प्रकार अपनी वेबसाइट पर आप जो भी मेटेरियल रखते हैंजैसे Video, Photos या Text Article उन सभी को Internet पर रखने के लिए एक स्टोरेज की आवश्यकता होती है,

अब एक कंम्‍पयूटर को इंटरनेट से जोडा जाता है और 24 घंटे ऑन रखा जाता हैऔर उस पर आपकी यह सभी सामग्री स्‍टोर रहती है उसे Host Computer या Web Hosting  कहते हैं और इस प्रक्रिया को Web Hosting कहते हैं दोस्तों होस्टिंग का सर्वर हमेशा चालू रखना पड़ता है अब हम थोडा विस्‍तार से समझते हैं ki (Hosting kya hai)

Paytm Account Kaise banye

Hosting kam कैसे करती है

अब हमने Web Hosting होती क्‍या है यह तो समझ लिया लेकिन यह काम कैसे करती है यह नहीं समझा तो यह भी जान लेते हैं, सबसे पहले समझते हैं हमें Web Hosting मिलती कहां से है दोस्तों हम होस्टिंग को ऑनलाइनही खरीद सकते है

buy kaise करे इसके लिए पहले से ही पोस्ट लिख चुका हूँ आप उसे पढ़ सकते है

आप जानते होंगे इंटरनेट दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क है इसके माध्यम से लाखों-करोड़ों कंप्यूटर

और मोबाइल डिवाइसेज एक दूसरे से जुड़े रहते हैं

आपने देखा होगा आपके घर में भी जब दो कंप्यूटरों को एक दूसरे से कनेक्ट कर दिया जाता है

तो वह भी एक छोटा सा इंटरनेट बन जाता है लेकिन यह प्राइवेट नेटवर्क होता है

लेकिन जब किसी कंप्यूटर को पब्लिक नेटवर्क से जोड़ा जाता है

या नहीं उसमें जो भी डाटा होता है उसे पब्लिक में कोई भी इस्तेमाल कर सकता है

या एक्सेस कर सकता है तो वह Internet का एक हिस्सा बन जाता है

इसे आप Web server या Web होस्टिंग कहा जाता है

वेब होस्टिंग को हम फ्री में यूज़ नही कर सकते है इसके लिए पैसे देने पड़ते है

यह वेब सर्वर साल के 365 दिन 24 घंटे इंटरनेट से जुड़े रहते हैं और यही वेब सर्वर आपको किराए

पर अपने  कंप्‍यूटर में जगह प्रदान करते हैं

आपकी वेबसाइट के कंटेंट पोस्ट को सुरक्षित रखने के लिए

और आपकी वेबसाइट पर उस पोस्ट को ऑनलाइन प्रदर्शित करने के लिए जिससे हमारी

website का डाटा show होता है

वेब होस्टिंग आपको अपने वेबसाइट के सभी फाइल्स विडियो, इमेज पोस्ट जैसे चीजो को रखने

लिए लेना पड़ता है।

नही लेंगे तो रखेंगे कहा। अगर रहने के लिए घर न हो तो आखिरकार आप कहा रहेंगे।

जैसे रहने के लिए घर की जरुरत होती है वैसे है साईट को बनाने के लिए वेब होस्टिंग की

उम्मीद है कि अब तक आपको web hosting kya hai। के बारे में जानकारी हो गई होगी।

वेब होस्टिंग भी आपको डोमेन नेम की तरह खरीदना पड़ता है।

बहुत सी वेबसाइट है जहाँ से आप अपने साइट के लिए होस्टिंग ले सकते है।

इसके लिए भी आपको उनको पैसे देना पड़ता है।

मैं आपको कुछ होस्टिंग एंड डोमेन prividar के नाम बता रहा हूँ जैसे

Godaddy

Hostgator

Bigrock

Bluehost

Free Hosting

हालांकि बहुत जगह आपको फ्री की होस्टिंग मिलती है। लेकिन उससे कुछ होने वाला नही है। आप

फ्री के पीछे ना भागे।

क्योंकि बाद में आपको पैड होस्टिंग लेनी पड़ेगी। फ्री होस्टिंग लेना समझो मुसीबत को मोल लेना

दोस्तों मै आप से येसा इसलिय कह रहा हूँ की आप बहुत मेहनत से अपनी वेबसाइट बना लेते है

किसी तरह से और मान लीजिये आपको होस्टिंग देना बंद कर दे फिर आप क्या करोगे आप उसको

कुछ कह भी नही पाएंगे

और आपकी सारी मेहनत ख़राब हो सकती है, और इससे कोई भी फायदा नही होने वाला है सो

आप होस्टिंग खरीद कर ही USE में ले फ्री न ले

Hosting के प्रकार

शेयर्ड वेब होस्टिंग ( Shared Web Hosting )

शेयर्ड वेब होस्टिंग में एक सर्वर पर एक साथ कई सारी वेबसाइट की फाइल को स्टोर करके रखा जाता है इसलिए ऐसे यह होस्टिंग शेयर्ड वेब होस्टिंग कहलाती है ये होस्टिंग सस्ती होती है इसको आप आसानी से यूज़ कर सकते हो

जैसे कंप्यूटर के सभी रिसोर्सेज जैसे प्रोसेसर, रैम और हार्ड डिस्क सभी वेबसाइट मिलकर इस्तेमाल करते हैं

लेकिन यह इसी वजह से यह होस्टिंग सभी होस्टिंग के मुकाबले सस्‍ती होती है लेकिन इसके कुछ नुकसान भी है

यह तब तक ठीक है जब तक आपकी वेबसाइट नई है क्योकि दोस्तों मैने इसे यूज़ कर के देखा है

काफी अछी है केवल न्यू ब्लॉगर के लिए

आप अभी अपनी website को रेंक और SEO कर रहे उस पर आने वाले विजिटर्स की संख्या भी कम है

अगर किसी वजह से किसी वेबसाइट के विजिटर की संख्या बढ़ती है तो उसका असर और उस

होस्टिंग पर होस्‍ट की गई सभी वेबसाइट पर पड़ता है

यानी अगर कोई एक वेबसाइट धीमी होती है या डाउन होती है

तो सभी वेबसाइट डाउन होते जाएंगे डाउन होने का मतलब है उन सभी वेबसाइट के पेजों को

खोलने में काफी समय लगेगा,

लेकिन ऐसा बहुत कम होता है यह एक ही कमरे को कई सारे लोगों द्वारा किराये पर लेने जैसा है  

वर्चुअल प्राइवेट सर्वर (VPS) Virtual Private Server

अगर देखा जाए तो वर्चुअल प्राइवेट सर्वर शेयर वेब होस्टिंग के जैसा ही होता हैलेकिन यहां पर एक server को बहुत सारे virtual servers में बांट दिया जाता है जैसे आप अपनी हार्ड डिस्क के पार्टीशन करते हैं बिल्कुल उसी तरह जिस प्रकार से पार्टीशन करने के बाद भी हार्ड डिस्क एक ही रहती है उसी प्रकार वर्चुअल प्राइवेट सर्वर एक ही सर्वर पर स्‍टोर रहता है

यह एक ही घर में अलग-अलग कमरों के जैसा होता है 

यह वेब सर्वर शेयर्ड वेब होस्टिंग से ज्यादा सिक्योर होते हैं और ज्यादा ट्रैफिक को हैंडल कर सकते

हैं आपको काफी गोपनीयता कर सकते है

डेडिकेटेड वेब होस्टिंग ( Dedicated Web Hosting )

यहां पर एक वेबसाइट के लिए एक सर्वर अलग से निर्धारित किया जाता है और उसके सारे रिसोर्सेज केवल एक ही वेबसाइट इस्तेमाल करती है यह वेब होस्टिंग बहुत ही ज्यादा ट्रैफिक वाली वेबसाइट के लिए अच्छी होती है

जैसे अगर आपकी कोई भी कमर्शियल वेबसाइट है जिस पर बहुत ज्यादा ट्रैफिक आता है

तो आप डेडीकेटेड वेब होस्टिंग को ले सकते हैं क्योंकि आपके लिए एक सर्वर अलग से निर्धारित

होता है

तो इसकी कीमत बहुत ज्यादा होती है

रिसेलर वेब होस्टिंग ( Reseller web hosting )

अगर आप खुद लिए वेबसाइट ना बनाकर दूसरों के लिए वेबसाइट बनाने का काम करते हैं तो आप रिसेलर वेब होस्टिंग को खरीद सकते हैं यह शेयर्ड वेबहोस्टिंग से थोड़ी सी अलग होती है जहां पर शेयर्ड वेबहोस्टिंग में अगर आप चार वेबसाइट चला रहे हैं तो आपको एक ही कंट्रोल पैनल

से सभी वेबसाइट को हैंडल करना होगा

लेकिन रिसेलर होस्टिंग में हर वेबसाइट के लिए अलग-अलग कंट्रोल पैनल होता है

यह उन व्यवसाइयों के लिए बहुत फायदेमंद है जो वेब होस्टिंग का व्‍यवसाय करना चाहते हैं

रिसेलर वेब होस्टिंग के द्वारा आप अपना खुद का होस्टिंग व्यवसाय कर सकते हैं

और अपने वेब सर्वर पर अलग-अलग स्पेस बनाकर लोगों को होस्टिंग सेल कर सकते हैं

यह उन व्यवसाइयों के लिए बहुत फायदेमंद है जो वेब होस्टिंग का व्‍यवसाय करना चाहते हैं

रिसेलर वेब होस्टिंग के द्वारा आप अपना खुद का होस्टिंग व्यवसाय कर सकते हैं

और अपने वेब सर्वर पर अलग-अलग स्पेस बनाकर लोगों को होस्टिंग सेल कर सकते हैं

क्लाउड वेब होस्टिंग (Cloud Web Hosting)

दोस्तों सभी तरह की होस्टिंग के बारे में जानने के बाद अब हम जानगे सबसे बेस्ट होस्टिंग के बारे में दोस्तों जब तक हम सबसे अच्छी होस्टिंग के बारे में नही जंगे तब तक हम कैसे होस्टिंग खरीदेंगें क्लाउड होस्टिंग एकपवार फुल होस्टिंग है क्लाउड होस्टिंग कई सारे वेब सर्वर का एक ग्रुप होता है जो अलग-अलग देशों में स्थापित होता है

इन सभी होस्टिंग को इंटरनेट से जोड़ दिया जाता है और यहां पर आपके अनुरोध पर एक वर्चुअल

सर्वर क्रिएट किया जाता है

जिसे क्लाउड सर्वर कहते हैं आपका सारा डाटा इंटरनेट अपलोड रहता है और सभी सर्वर सिंक भी

रहता है

मान लीजिए आपकी वेबसाइट अगर भारत में है और अमेरिका में कोई उसे ओपन करता है

तो क्लाउड वेब होस्टिंग के द्वारा उसके सबसे नजदीकी सर्वर द्वारा उस तक पहुंचाई जाती है

जिससे वेबसाइट की गति बहुत बढ जाती है, साथ ही क्लाउड होस्टिंग अधिक वेब ट्रेफिक को भी

हैंडल कर लेता है

आपकी website कभी भी सिलो नही होगी और नही कोई एरर दिखाएगी ये होस्टिंग आज टाइम

में फेमस ब्लॉगर इन्हें ज्यादा यूज़ में लेते है

दोस्तों गर पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज आप इसे आपने मित्रो के साथ SHERE जरुर करे

जय हिन्द HELLOHINDI.IN

LOVE YOU INDIA

1 thought on “Web Hosting Kya Hai (hindi me)”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *